सोच हो तो ऐसी

एक समय की बात हैं-

एक अमित नाम का आदमी था। एक दिन वह जब अपने घर के लिए जा रहा था। तब उसने देखा एक बच्चा उसकी कार को निहार रहा हैं।

उसे रहम आ गया और उसने उस बच्चे को अपनी कार में बैठा लिया। बच्चा बोला-आपकी कार बहुत महंगी हैं ना ?
आदमी-हाँ मेरे भाई ने मुझे उपहार में दी है।

बच्चा बोला-आपके बड़े भाई कितने अच्छे हैं।
आदमी बोला-मुझे पता है तुम क्या सोच रहे हो। तुम भी ऐसी कार चाहते हो ना ?
बच्चा बोला-नहीं मैं भी आपके बड़े भाई जैसा बनना चाहता हूँ।
मेरे भी छोटे-छोटे भाई बहन हैं ना।